उपसंहार

10
Nov

प्रत्येक आर्थिक वर्ष के अंत मी सभी प्रकार से प्राप्त निधी व सामग्री का तथा संपूर्ण खर्च का हिसाब मंदिर व्यवस्थापक रखते है | सभी एकाउंट, लेजर, फेसबुक, रशीदो, चेकबुक, डेबीड बुक काउंट फाईल, पासबुक इत्यादी चार्ट एकाउंट द्वारा आडीट कर आयकर शासन चेरेटी कमिश्नर कलेक्टर व इंकमटेक्स विभाग कि ओर प्रस्तुत किया जाता है |

मंदिर संस्थान के संपूर्ण कर्मचाऱीयों, पुजारी, व्यवस्थापक मंडल, मार्गदर्शन व सलाकार मंडल व महिला मंडल, युवा सेवा मंडल संपूर्ण सेवाधारी मंडल अपनी सेवायें अर्पण करते है | समय समय पर शासन से प्राप्त पत्रो से संदेश, मार्गदर्शन का अनुकरण करके सेक्युरीटी, सी. सी. टि. व्ही. मेटल डिटेक्टर आदी कि व्यवस्था परिपूर्ती की जाती है |

अति प्राचिन विरासत मंदिर के स्थान पर पूर्वंजो की पंचकेटी द्वारा बनाया गया ७० वर्ष पुराना मंदिर की दुर्दशा छज्जे टूट कर गिरना, स्लॅब में अनेक लिकेज व पुरानी सामग्री की अवस्था जीर्णशीर्ण होने से संस्थान ने भव्य माँ के मंदिर का निर्माण करने की योजना बनायी है | धर्म प्रेमी सज्जनो, भक्तो, दर्शनार्थी, सेवाधारी आदी से विनती है की इस महान यज्ञ में अवश्य अपनी आहुती देकर संकल्प को पूर्ण करके माँ के चरणो में अपनी श्रद्धा के फुल अर्पण करेंगे |

माँ की शोभा बढाणे में आप सभी से उपेक्षा की उम्मीद के साथ माँ का आशीर्वाद !

कार्यक्रम का व्योरा